-->

Latest Current Affairs in Hindi: 29th October 2020


Current Affairs 29th October 2020



  • शाला और हॉस्पिटल के लिए खेती की जमीन का वपराश हेतु बदल जा सकेगा।
  • फैक्ट्री,मकान, दुकान व्यापार के लिए कोई भी नागरिक जमीन खरीद सकेगा।
  • अब केंद्र शासित राज्य जम्मू कश्मीर और लद्दाख में कोई भी भारतीय जमीन खरीद सकेगा और वहां घर भी बना सकेगा। केंद्र सरकार ने राज्य की जमीन को लगते कानूनी सुधार में नोटिफिकेशन जारी किया है। 
  • केंद्रीय मंत्रालय ने सोमवार को जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार देश का कोई भी नागरिक अब जम्मू कश्मीर और लद्दाख में अपना घर,दुकान,फैक्ट्री और व्यापार के लिए जमीन खरीद सकता है। जिसके लिए अब कोई प्रतिबंध नहीं है लेकिन कृषि जमीन की को खरीदने के लिए अभी भी प्रतिबंध यथावत है, जबकि शाला,हॉस्पिटल सभी के लिए कृषि जमीन का हेतु बदला जा सकता है यह कानून में इस प्रकार की छूट दी गई है।
<<<अधिक पढें>>>


  • कोरोना महामारी के कारण विकासशील देशो से विकसित देशो ने एफडीआई काम हुआ,विकसित देशो का एफडीआई 98 अबज डॉलर हुआ।
  • कोविड-19 महामारी के कारण साल के प्रथम 6 महीने में वैश्विक फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट के प्रवाह में 2019 के समान समय की तुलनामे 49% की कमी आई है ऐसा यूनाइटेड नेशंस द्वारा जारी किए गए अंको में बताया गया है।
  • यूनाइटेड नेशंस कॉन्फ्रेंस ऑन ट्रेड एन्ड डेवलमेंट के हाल ही में।जाहिर किये गए ग्लोबल इन्वेस्टमेंट ट्रेंड्स मोनिटर में बताया गया है कि महामारी लोकड़ाउन के कारण इन्वेस्टमेंट प्रोजेक्ट की गति कम हो गई है।
  • यह अहवाल में बताए अनुसार, भविष्य अभी भी अनिश्चित दिख जा रहा है। विकसित देशों के एफडीआई सबसे बड़ा घाटा दिखाई दे रहा है। यह साल के प्रथम 6 महीने में विकसित देशों में एफडीआई 98 अबज डॉलर रहा है जो पिछले साल के समान तुलना में 75% कम है।
  • उत्तर अमेरिका का एसबीआई 56% कम होकर 68 अबज डॉलर रहा है। यह दरमियान विकासशील देशों के एफडीआईई में 16%की  कमी आई है जो अनुमान से भी कम है निशा 2 के बताए अनुसार चीन में हुए इन्वेस्टमेंट के कारण विकासशील देशों के एफड़ीआई में कमी नजर आई है।
<<<अधिक पढें>>>


  • लोन धारकों के अकाउंट में 5 नवंबर तक चक्रवॄद्धि ब्याज और सामान्य ब्याज के बीच का तफावत जमा करने का निर्देश
  • रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बैंक, नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों सहित की तमाम विराट संस्थाओं को 5 नवंबर तक 2 करोड़ रुपये तक की लोन पर ताज़ेतर में जाहिर की गई ब्याज माफी की योजना का अमल करने का आदेश दिया है। यह योजना अंतर्गत मार्च 2020 से अगस्त 2020 तक मतलब कि 6 महीने के ब्याज का ब्याज माफ किया जाएगा।
  • उल्लेखनीय है कि सरकार ने 24 अगस्त के दिन चक्रवृद्धि ब्याज और सामान्य व्याज के बीच के तफावत की रकम चुकाने की जाहिरात की थी। सरकार ने तमाम बैंकों को 5 नवंबर तक चक्रवृद्धि व्याज और सामान्य ब्याज के बीच की तफावत की रकम 5 नवंबर तक ग्राहकों के लोन अकाउंट में जमा करने का आदेश दिया है।
  • यह स्कीम अंतर्गत हाउसिंग लोन, एजुकेशन लोन, क्रेडिट कार्ड की बाकी रकम, ऑटो लोन, एमएसएमई लोन, कंज्यूमर ड्यूरेबल लोन और कंजक्शन लोन को जोड़ा गया है।


  • देश के  अर्थ तंत्र में दिमाग और मक्कम रीत से सुधार हो रहा है ऐसा दावा एक सर्व की रिपोर्ट में किया गया है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और इको रेट द्वारा हुए इस सर्वे में ऐसा दावा किया गया है। 
  • सर्वे में सादा किया गया है कि श्रमिकों सितंबर महीने में पौधे से भी ज्यादा पैसे घर भेज रहे थे यह प्रोविडेंट फंड में भी  पैसे जमा हो रहे हैं।
  • यह अहवाल में ऐसा दावा किया गया है कि इमीग्रेंट श्रमिकों द्वारा पहले की तुलना से अब ज्यादा पैसे घर भेजे जा रहे हैं। इस साल फरवरी में जितनी रकम श्रमिक घर पर भेजते थे उतने ही सितंबर में भेजते देखे गए हैं। ऐसे ही  प्रोविडेंट फंड में भी नए रजिस्ट्रेशन बढ़ गए हैं। 
  • मंगलवार को प्रकट किए गए रिपोर्ट के अनुसार जन धन बैंक अकाउंट में संख्या  की भी बढ़ोतरी हुई है। यह अकाउंट की संख्या 41 करोड़ के अंक को पार की गई है।
  •  पीटीआई के एक अहवाल के अनुसार इस साल के अप्रैल महीने से कोरोना के चलते श्रमिकों द्वारा खुद के घर भेजी गई रकम में बहुत कमी आई है। जून और जुलाई महीने से यह परिस्थिति में सुधार आया है। 


  • मंगल ग्रह के लिए हर रोज 3 फ्लाइट उड़ान भरेगी साल 2050 तक 10 लाख लोगों को पहुंचाने की योजना  तैयार की गई है।
  • अमेरिकी कंपनी स्पेसएक्स ने मंगल ग्रह पर मानव बरसात के लिए योजना के अंतर्गत माहिती रजू की है। एक्स कंपनी के सीईओ गिनी शॉटवेल ने टाइम मैगजीन ने यह माहिती दी थी कि मंगल ग्रह पर मानवीको वसाहत के लिए स्टारलिंक सेटेलाइट खूब महत्व की भूमिका निभाएगी।
  • स्टारलिंक सेटेलाइट के जरिए कंपनी पृथ्वी से मंगल तक इंटरनेट एक्सेस प्रोवाइड करना चाहती है। स्पेसएक्स का कहना है कि यह सैटेलाइट दोनों ग्रह के लोगों को जोड़ने का काम करेगी।
  • सीईओ गिनी शॉटवेल ने बताया कि इस बार जब लोग मंगल पर पहुंच जाएंगे तो पृथ्वी के लोगों के साथ बातचीत करने की जरूरत पड़ेगी इस काम में स्टारलिंक सेटेलाइट की भूमिका मुख्य होगी।
  • स्पेसएक्स कंपनी की योजना है कि साल 2050 तक मंगल ग्रह पर 10 लाख लोगों को पहुंचाया जाए। कंपनी की योजना के अंतर्गत मंगल ग्रह के लिए हर रोज 3 फ्लाइट उड़ेगी, मतलब कि 1 सालमें  1000 फ्लाइट और हर फ्लाइट में 100 लोग एक नए ग्रह पर जाने के लिए यात्रा करेंगे।


WhatsApp Group Link: Click Here


Related Posts

एक टिप्पणी भेजें

Subscribe Our Newsletter