-->

Latest Current Affairs 27th November, 2020

 

Current Affairs 27th November 2020

26 नवंबर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संविधान दिवस पर संबोधन देश को वन नेशन वन इलेक्शन की जरूरत

26 नवंबर 2020 के दिन संविधान दिन के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केवड़िया कॉलोनी में हुए एक कार्यक्रम में संबोधन करते हुए उन्होंने कहा देश को आज वन नेशन वन इलेक्शन की खास जरूरत है।
उन्होंने कहा था कि देश में कुछ महीने में चुनाव होते रहते हैं इस बात पर मंथन होना चाहिए। अब हम लोग डिजिटलाइजेशन तरफ जा रहे हैं। कागज का उपयोग बंद करना पड़ेगा। आजादी के 75 साल पूरे होने जा रहे हैं तब देश को कुछ कर टार्गेट नक्की करने की जरूरत है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि संविधान की रक्षा में न्यायपालिका की भूमिका बहुत महत्व की  है। 70 के दशक में इमरजेंसी के रूप में संविधान को तोड़ने की कोशिश हुई थी परंतु  इमरजेंसी के बाद संविधान की सिस्टम ज्यादा मजबूत बनी है हमारे लिए यह एक सिखने जैसी बात है।
प्रधानमंत्री ने भारतीय नागरिकों को अपील की थी कि हर नागरिक को संविधान समझना जरूरी है और उनके तहत चलना चाहिए। विधानसभा में भी लोक भागीदारी कैसे बढ़ती है उस पर चर्चा करनी जरूरी है। कोरोना काल में लोगों ने संविधान पर भरोसा रखा है। संसद में भी यह काम ज्यादा हुआ है। सांसदों ने अपना पगार कम करने के लिए भी संमति दी थी। आज कोरोनावायरस में चुनाव हो रहे हैं इसके नियम के मुताबिक सरकार भी बनी है और यह संविधान की ताकत बता रही है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हर व्यक्ति को राष्ट्र हित में काम करना चाहिए। राष्ट्रहित के साथ जुड़े हुए मुद्दों पर राजकारण खेला जा रहा है और उसका नुकसान हो रहा है। सरदार सरोवर डैम भी राजकारण का शिकार बना है। कुछ लोगों के कारण डीएम का काम रुक गया और उसके कारण उसका खर्च करोड़ों रुपए में बढ़ गया था।

25 नवंबर: महिलाओ के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए आंतरराष्ट्रीय दिन

हर साल महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस 25 नवंबर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा चिन्हित किया जाता है। यह दिवस जागरूकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है कि दुनिया भर में महिलाओं को घरेलू हिंसा, बलात्कार और हिंसा के अन्य रूपों से अधिक किया जाता है।
इस साल 2020 की थीम Fund, Respond,Prevent,Collect है।
महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन का अंतरराष्ट्रीय दिवस भी लिंग आधारित हिंसा के खिलाफ सक्रियता के 16 दिन की शुरुआत करता है।
16 दिन, यह एक अभियान है जो हर साल 25 नवंबर और 10 दिसंबर के बीच चलता है। 10 दिसंबर को मानव अधिकार दिवस के रूप में मनाया जाता है। अभियान पहली बार 1991 में शुरू किया गया था। 187 देशों के 6000 से अधिक संगठन में भाग लेते हैं। अभियान के दौरान महत्वपूर्ण तिथियां नीचे दर्शाई गई है।
25 नवंबर: महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस
29 नवंबर: अंतर्राष्ट्रीय महिला मानवाधिकार रक्षक दिवस
1 दिसम्बर: विश्व एड्स दिवस
5 दिसम्बर: आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए अंतर राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस
10 दिसम्बर: अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस
25 नवंबर 1960 को डोमिनिकन तानाशाह राफेल ट्रुजिलो  के आदेश पर तीन मिराबल बहनों की हत्या कर दी गई। 1981 में कैरेबियाई नारीवादी एनकेन्ट्रोस और लैटिन अमेरिका के कार्यकर्ताओं ने महिलाओं के खिलाफ हिंसा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए 25 नवंबर को दिन के रूप में चिन्हित किया।
संयुक्त राष्ट्रीय महिलाओं के खिलाफ हिंसा को लिंग आधारित हिंसा के रूप में परिभाषित करता है, जिसके परिणाम स्वरुप शारीरिक, मानसिक या यौन नुकसान होता है। इसमें स्वतंत्रता के मनमाने अभाव से होने वाले खतरे भी शामिल है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, तीन में से एक महिला शारीरिक हिंसा का सामना कर रही है।
नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के अनुसार महिलाओं के खिलाफ ऐसा भारत में बलात्कार, दहेज हत्या, घरेलू हिंसा आदि के रूप में होती है।

संयुक्त राष्ट्र के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

मुख्यमथक- मैनहैटन टापू,न्यूयॉर्क शहर, न्यूयॉर्क संयुक्त राज्य
सदस्य देश- 193 देश
आधिकारिभाषा-अरबी,चीनी,अंग्रेजी,फ्रांसीसी,रूसी,स्पेनी

फूटबॉल लेजेंड डियेगो मेराडोना का निधन

डियेगो मेराडोना का 60 साल की उम्र में हार्ट अटेक से निधन हुआ है।दो सप्ताह पहले ही उन्हें हॉस्पिटल से छुट्टी दी गई थी, तब उन्हें ब्रेन सर्जरी के लिए एडमिट किया गया था। मेराडोना एक महान फुटबॉलर थे और उन्होंने 1986 में अर्जेंटीना को वर्ल्डकप जीताने में महत्व का काम किया था। यह टूर्नामेंट में उनका विश्व प्रसिद्ध गोल भी शामिल है जिसको हैंड ऑफ गॉड के नाम से जाना जाता है। इस गोल की मदद से अर्जेंटीना ने इंग्लैंड को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया था।
16 साल अर्जेंटीना जूनियर्स के लिए खेलकर प्रोफेशनल करियर की शुरुआत करने वाले मेराडोना का नाम विश्व के श्रेष्ठ फुटबॉलर में आता है। 1986 में अपने देश को दूसरी बार वर्ल्ड कप जिताने में उन्होंने अब तक की भूमिका निभाई थी।
अर्जेंटीना की ओर से खेलते हुए मेराडोना ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 91 मैच खेली है। जिसमें उन्होंने 34 गोल किए हैं। उन्होंने 4 FIFA वर्ल्ड कप टूर्नामेंट भी खेला है, जिसमें 1986 का वर्ल्डकप भी शामिल था। वह टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी जाहिर किए गए थे।इस टूर्नामेंट में मेराडोना ने गोल्डन बॉल अवार्ड भी जीता था।
मेराडोना को फीफा प्लेयर ऑफ द सेंच्युरी से भी नवाजा गया था।मैराडोना ने एक बार वर्ल्डकप गोल्डन बोल, एक बार बेलोन डी ओर, 2 बार साउथ अमेरिकन फुटबॉलर ऑफ द यर, 6 बार नेशनल लीग टॉप स्कोरर एवॉर्ड मिला है।
1986 के वर्ल्डकप में मैराडोना ने हाथ से गोल करके अर्जेंटीना को इंग्लैंड के सामने जीत दिलाई थी। यह गोल द्वारा इंग्लैंड वर्ल्ड कप में से एलिमिनेट हो गया था।हकीकत में अगर रेफरी दिखे तो हाथ के उपयोग से किये गये गोल पर  खिलाड़ी को यलो कार्ड मिलता है और गोल गिना जाता नही है, परंतु मेराडोना ऐसी पोज़िशन में थे कि रेफरी को दिखे ऐसा नही था कि उन्होंने हाथ का उपयोग किया है।उन दिनों विडीयो आसिस्टन्ट रेफरी टेक्नोलॉजी भी नहीं थी इसलिए यह गोल को माना गया था।

ओस्कार एवॉर्ड 2021: मलयालम फ़िल्म जलिकट्टु 93 वे ओस्कार एवॉर्ड में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी

25 अप्रैल 2021 के दिन लॉस एंजल्स में आयोजित होने वाले 93 में एकेडमी एवोर्डस भारत की ओर से मलयालम फिल्म जलिकट्टु ने ऑफिशल एंट्री जाहिर की है। फ़िल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया के 14 सभ्योकी एक कमिटी ने डिरेक्टर लीजो पेल्लीसरी की सटायरिकल थ्रिलर फ़िल्म को पसंद की है।।अब जलिकट्टु आनेवाले अप्रेल महिने में अमेरिका के लॉस एंजल्स में  आयोजित होने वाले  ओस्कार एवोर्डस में  बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फ़िल्म फॉरेन लेंग्वेज केटेगरी में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी।
93 वे ओस्कार एवोर्डसमें एंट्री भेजने के लिए देश मे से  27 फिल्मों के बीच कॉम्पिटिशन थी।जिसमे सुजीत सरकार की गुलाबो सिताबो, सबदर रहना की चिप्पा, हंसल मेहता की छलांग, चैतन्य ताम्हणे की द डिसिपल, विधु विनोद चोपड़ा की शिकारा, अनंत महादेवनकी बिटर स्वीट, रोहेना गगेरा की इज़ लव इनफ़ सर, गीतु मोहनदास की मुथोन,नीला बाधमनी,कलीरा अतिता, अन्विता दत्त की बुलबुल, हार्दिक महेता की कामयाब और  सत्यांशु देवांशु की चिंटू का बर्थडे भी शामिल थे।
ओस्कार के लिए भेजी गई फ़िल्म जलिकट्टु  फ़िल्म भैंसे को पकड़ने की विवादास्पद खेल आधारित फिल्म लगती है परंतु वैसा फ़िल्म में नही है। यह फ़िल्म में एक भैंस कत्लखाने में से भाग जाती है और उसके बाद सारा गांव उसे पकड़ने के लिए आकाश पाताल एक कर देता है।उसकी कहानी है। डिरेकटर लीजो  जोस पल्लीसरीने  यह फ़िल्म से समग्र मानवजात की शाश्वत लालच की वृत्ति पर कटाक्ष किया है। जोस पल्लीसरी की  2017 और 2018 में आई दो फिल्में अंगमालि डायरीज और  ई मा यो , ने भी बहुत प्रशंसा पाई थी। 
2019 में ज़ोया अख्तर की फिल्म ' गली बॉय ' ने  2020 में हुए 92 वे ओस्कार एवोर्डस के लिए  ऑफिशियल एंट्री के रूप में  पसंद की गई थी।इससे पहले  रीमा दास की विलेज रोक्स्टर्स, अमित मसूरकर की  न्यूटन, वेट्री मारनकी विसारानई, और चैतन्य ताम्हणे की कोर्ट भी फॉरेन  लेंग्वेज केटेगरीमें  भेजने में आई थी। अभी तक भारत की तीन ही फ़िल्म मदर इंडिया(1957), सलाम बॉम्बे(1988) और लगान(2001) ओस्कारकी बेस्ट फॉरेन लेंग्वेज फ़िल्म की कैटेगरीमें नॉमिनेट होने में सफल रही है,पर अभी तक कीसी भी इंडियन फ़िल्म को इस केटेगरी में ओस्कार एवॉर्ड मिला नही है।

फोर्ब्स हाइएस्ट पेईड एक्टर 2020: अक्षय कुमार 362 करोड़ रुपये की कमाई करके दुनिया के छठे सबसे ज्यादा कमाई करनेवाले एक्टर बने

बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार  अक्षय की  फ़िल्म ' लक्ष्मी ' हाल ही में डिजिटल प्लेटफॉर्म  डिज्नीप्लस हॉटस्टार वीआईपी पर रिलीज हुई है।
अक्षय कुमार बॉलीवुड को हर साल सबसे ज्यादा फ़िल्म देकर  फेन्स का दिल जीत लेते है। उसके साथ उन्होंने  दुनियामे सबसे ज्यादा कमाई करनेवाले एक्टर्स के लिस्ट में  स्थान ले लिया है। हाल ही में आये  फोर्ब्स की ज्यादा कमाई करनेवाले टॉप 10 एक्टर्स के लिस्ट में 48.5 मिलीयन डॉलर (362 करोड़ रुपये) सालाना कमाई करके अक्षय कुमार ने छठा स्थान प्राप्त कर लिया है।इस लिस्टमे उन्होंने ग्लोबल स्टार शाहरुख खान और  सलमान खान को भी पीछे छोड़ दिया है।
बॉलीवुड के खिलाड़ी कुमार अक्षय की फिल्म लक्ष्मी हिंदी डिजिटल प्लेटफॉर्म डिजनीप्लस हॉटस्टार पर रिलीज हुई है। रिकॉर्ड ब्रेक करते हुए यह फिल्म ओटीटी प्लेटफार्म पर सबसे ज्यादा है बार देखी गई है। यह फिल्म उपरांत एक्टर कम समय में कृति सेनन के साथ बच्चन पांडे सारा अली खान और धनुष के साथ अतरंगी रे, वाणी कपूर के साथ बेलबॉटम और मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर के साथ पृथ्वीराज फिल्म लेकर आ रहे हैं। फिल्मों के उपरांत अक्षय कुमार की बड़ी कमाई प्रोडक्ट एंडोर्समेंट द्वारा होती है।
87.5 मिलियन डॉलर की कमाई के साथ ड्वेन जॉनसन यह लिस्ट में पहले नंबर पर है। इसके उपरांत रायन रेनॉल्ड(71.5 मिलीयन डॉलर), मार्क वहालबर्ग(58 मिलीयन डॉलर), बेन एफ्लेक(55 मिलीयन डॉलर) और वेन डीजल(54 मिलीयन डॉलर) सबसे ज्यादा कमाई करने वाले 5 एक्टर्स की लिस्ट में शामिल है।

Related Posts

टिप्पणी पोस्ट करें

Subscribe Our Newsletter