-->

Latest Current Affairs in Hindi: 3rd November 2020


Current Affairs 3rd November 2020




  • हर साल 31 अक्टूबर के दिन विश्व नगर दिवस पूरे विश्व में मनाया जाता है।
  • संयुक्त राष्ट्र द्वारा इस दिन को हर साल मनाया जाता है। यह दिन वैश्विक शहरीकरण को बढ़ावा देने, शहरीकरण की चुनौतियों से निपटने के लिए और सतत शहरी विकास की योगदान को बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।
  • विश्व नगर दिवस 2020 सातवां ग्लोबल सेलिब्रेशन है। इस दिन को मनाने की शुरुआत 2014 में हुई थी।

2020 के विश्व नगर दिवस का विषय: वैल्यू इन अवर कम्युनिटीज एंड सिटीज




  • हाल ही में एनिमल स्टेट ऑफ एजुकेशन रिपोर्ट 2020 का सर्वेक्षण जारी किया गया है जो ग्रामीण भारत में छात्रों को सिखने के नुकसान के स्तर पर एक दृष्टिकोण प्रदान करता है। इस रिपोर्ट को संयुक्त अनुसंधान और आकलन इकाई प्रथम शिक्षा फाउंडेशन द्वारा जारी किया गया है।
  • इस साल सर्वेक्षण फोन कॉल पर आयोजित किया गया था जिसमें 26 राज्य और 4 केंद्र शासित प्रदेशों को शामिल किया गया था।
  • सर्वेक्षण के अंदर तकरीबन 52227 घरों और 59251 बच्चों को शामिल किया गया था जिनकी उम्र तकरीबन 5 से 16 साल के बीच हो। इसके अलावा इस सर्वेक्षण में 8965 शिक्षकों और आचार्य को शामिल किया गया था।



  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 2 नवंबर 2020 के दिन यह सूचित किया कि उन्होंने राज्य में पटाखों की बिक्री पर रोक लगाई है और उसके लिए उन्होंने निर्देश जारी किए हैं।
  • सरकार ने यहां कदम कोविड-19 रोगियों के साथ-साथ जनता को उनके दुष्प्रभाव से बचाने के लिए उठाया है।
  • राज्य में पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय 1 नवंबर को राजस्थान में कोविड-19 स्थिति की समीक्षा बैठक के दौरान लिया गया था।
  • राजस्थान में मुख्यमंत्री ने बैठक की अध्यक्षता की थी प्रकाशाचे नागरिकों की सुरक्षा सरकार के लिए महत्वपूर्ण है।



  • 30 अक्टूबर 2020 के दिन पांचवे सार्वजनिक मामलों के सूचकांक 2020 को जारी किया गया था। इस सूचकांक को पब्लिक अफेयर सेंटर द्वारा जारी किया जाता है।
  • इस सूचकांक के अनुसार बड़े राज्यों में केरल सबसे अच्छे शासित राज्य के रूप में उभर आया है।
  • सूचकांक के अनुसार छोटे राज्यों में गोवा राज्य सबसे अच्छे शासित राज्य के रुप में उभर आया है। 
  • इसके अलावा चंडीगढ़ केंद्र शासित प्रदेशों में से सबसे अच्छे शासित केंद्र शासित प्रदेश के रूप में उभर आया है।



  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर ने बायोमास कैसी करण पर आधारित हाइड्रोजन जनरेशन टेक्नोलॉजी का विकास करने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।
  • इसकी वजह से की खाई थी मूल्य पर फ्यूल सेल ग्रेड हाइड्रोजन का उत्पादन करने के लिए सिस्टम विकसित की जाएगी।
  • समझौता ज्ञापन के तहत बनाई जाने वाली तकनीक स्वच्छ ऊर्जा विकल्प प्रदान करेंगी और उसके बदले में स्वच्छ ऊर्जा बायोमास कचरी की चुनौती को दूर करेगी।
  • प्रौद्योगिकी का प्रदर्शन इंडियन ऑयल रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर फरीदाबाद किया गया।
  • इस प्रदर्शन संयत्र से पन्ना हाइड्रोजन का उपयोग इन द सेल बसों को बिजली देने के लिए किया जाने वाला है।


WhatsApp Group Link: Click Here


Related Posts

एक टिप्पणी भेजें

Subscribe Our Newsletter